Hindi

मिशन भारत माता

 

"भारत माता की जय" के उद्घोष के साथ ही सभी भारतवासियों के हृदय में देशप्रेम और खून में देश के लिए "कुछ करने के जज्बे कासंचार होने लगता है। इस बात का महत्व समझते हुएभारत माता फाउंडेशन ने एक प्रस्ताव पारित कर देश-प्रेम की भावना को बढ़ावा देने हेतुसभी देशवासियों से समर्थन मांगकर प्रधानमंत्री जी से अनुरोध किया है कि :-

 

1. हर नगरपालिकाविधानसभा और संसद भवन के केन्द्रीय कक्ष में भारत माता की मूर्ति स्थापित की जाये,

2. राष्ट्रगान तथा राष्ट्रगीत के अन्त में "भारत माता की जयअन्तिम पंक्ति के रुप में जोड़ा जायेऔर

3. "भारत माता की जयको राष्ट्रीय नारा घोषित किया जाये।

 

भारत माता में देश के सभी जातिधर्मप्रान्तभाषा संस्कृति आदि का दर्शन और मान्यताऐं सन्निहित हैं। भारत माता इस देश की विविधताओं में एकता का प्रतीक है। देश के सभी 125 करोड़ देशवासियों के हृदय में भारत माता के प्रति प्यार और सम्मान की भावना निहित है क्योंकि भारत माता किसी धर्म या ईश्वर का प्रतीक नहीं हैंऔर ना ही ये कोई देवी-देवता हैं। यह तो इस देश का तिरंगा थामे जन-जन की भावना का प्रतीक है। इसलिये हर भारतवासी पूरी निष्ठा और जोश के साथ गर्व से कहता है, "भारत माता की जयऔर अपने प्रधानमंत्री जी ने तो इस उद्घोष को विश्व पटल तक पहुँचा दिया है।

 

सभी समाजसेवियों और देशभक्तों से अनुरोध किया हैकि इस देशव्यापी योजना में सक्रिय भाग लें और तन-मन-धन से सहयोग करें।

 

माँ भारती सभी देशवासियों को सुखशान्ति और वैभव प्रदान करें।

 

भारत माता को संवैधानिक मान्यता दिलाने हेतु हस्ताक्षर अभियान में आपका सहयोग प्रार्थनीय है।

 

समर्थन हेतु 0784 0066 888 पर मिस्ड-काल करें।

 

 

 

आप भी नीचे दिये गये फाॅर्म को भरें और अपने मित्रों से भी भरवायें। आपके द्वारा की गयी प्रविष्टि हस्ताक्षर अभियान को सफल बनायेगी।  

English

Mission Bharat Mata

 

Proclamation of "Bharat Mata ki Jai" touches patriotic spirit in our heart and secretes "the spirit of something" for the country in the blood of all Indians. Realising the importance of this Bharat Mata Foundation has passed a resolution to promote this sense of love for the country, by seeking the support of all Indians and asking the Prime Minister that :-

 

1. Every municipality, Central Hall of Parliament and House Assembly should have a statue of Mother India,

2. At the end of the national anthem and national song "Bharat Mata ki Jai" should be added as the last line, and

3. "Bharat Mata ki Jai" should be declared as our national slogan.

 

One may find Indians of all race, religion, region, language, culture etc. embodied in Mother India. Mother India is a symbol of unity in diversity of our country. Mother India is in the heart and soul of 125 million people of the country and they show love and respect for Mother India because it is not linked to a single religion or God. Holding the flag of the country embodies the spirit of the masses. This is the reason why all Indians proudly says, "Bharat Mata ki Jai" with dedication and passion. This same proclamation has enabled our Prime Minister to reach at the world's stage.

 

All social workers and patriots are requested to take an active part in this national plan and collaborate where-ever possible.

 

May Mother Bharti provide happiness, peace and prosperity to all Indians.

 

To give Mother India a constitutional recognition, your cooperation in this signature campaign is solicited.

 

Please give us a missed-call on 0784 0066 888 for support.

 

 

 

You may also fill following form and request your friends to fill the same. Such entries shall also be treated as your sign in support of this campaign.

 

 



अपने क्षेत्र में हस्ताक्षर अभियान चलाने हेतु सम्पर्क करें:-

भारत माता फाउंडेशन

-190, दिलशाद गार्डन (भारत माता मंदिर)

दिल्ली-95

Email:[email protected] 

 

If you want to volunteer for this campaign, please download "signature form" get a print-out of front and back on a A4 size paper, get it signed from your friends and relatives, and send it at our address-

Bharat Mata Foundation

E-190, Dilshad Garden (Bharat Mata Mandir)

Delhi-110095

 

 

 

 

Mission Bharat Mata